Indore- ब्रह्माकुमारीज इंदौर जोन के स्वर्ण जयंती समारोह में 20 बेटियों ने लिया बालब्रह्मचर्य और समाजसेवा में जीवन अर्पित करने का संकल्प

 

दादी के हाथ में लाडली का हाथ सौपते हुए बोले माँ- बाप दादी अब ये आपकी अमानत है
– शिव संग जोड़ी जीवन की प्रीत, वरमाला पहनाकर बनाया जीवन साथी
– दादीजी के सानिध्य में बेटियों ने परमात्मा शिव के यादगार शिवलिंग को वरमाला पहनाकर शिव को बनाया साजन
– ब्रह्माकुमारीज इंदौर जोन के स्वर्ण जयंती समारोह में 20 बेटियों ने लिया बालब्रह्मचर्य और समाजसेवा में जीवन अर्पित करने का संकल्प
– माउंट आबू से पधारे 108 बालब्रह्मचारी, राजयोगी भाई- बहनों का पगड़ी, मुकुट, माला पहनाकर किया सम्मान
– खचाखच भरा रहा बास्केटबॉल स्टेडियम
22 दिसंबर, इंदौर।
अपने लिए तो सभी जीते हैं हमें औरों के लिए जीना है। दुःख- दर्द में जी रहे हजारों लोगों का सहारा बनना है। लोगों को सदमार्ग का रास्ता दिखाना है…. इस संकल्प के साथ देशभर के अलग- अलग स्थानों से पहुँची 20 बेटियों ने अपना जीवन परमात्मा शिव को अर्पण कर दिया। अब इनके जीवन का एक ही लक्ष्य है भारतीय पुरातन संस्कृति आध्यात्मिकता और राजयोग मेडिटेशन का संदेश जन- जन को पहुँचाना है।
सभी बेटियां सजधजकर दुल्हन के रूप में जैसे ही स्टेज पर पहुँची पूरा हाल तालियों की गड़गड़ाहट से गूँज उठा।

साइलेन्स से मिलती है शांति, खुशी और शक्ति: दादी जानकी जी
पांच हजार से अधिक लोगों की सभा को संबोधित करते हुए दादी जानकी जी ने कहा कि साइलेन्स से शांति, खुशी और शक्ति मिलती है। साइलेन्स में बहुत पॉवर है। ओम शांति का ये महामंत्र मन को शांति प्रदान करता है। आज इतने लोगों की सभा देखकर बहुत खुशी हो रही है। सभी के दिल में बाबा है। हम बाबा के हैं और बाबा हमारा है। जब हम प्यार से मेरा बाबा कहते हैं तो बाबा की मदद मिलती है।

दादी: सब बाबा का कमाल है….
आज इतनी सभा के बीच इन कन्याओं का समर्पण हो रहा है, ये कन्याएं कितनी भाग्यशाली हैं जो भगवान की सेवा में अपना जीवन समर्पित कर रही हैं। आज का ये द्रश्य कितना सुंदर है। वाह मेरे बाबा, वाह। सब बाबा करा रहा है। मै तो निमित्त मात्र हूं। सब बाबा का कमाल है। आज इंदौर आकर ओम प्रकाश भाई की याद आई। दादी जी का इंदौर जोन की वरिष्ठ ब्रह्माकुमारी बहनों की ओर से दादी जी का मुकुट, हार, माला से सम्मान किया गया।

माता- पिता बोले- ऐसी बेटी को पाकर में धन्य हो गया….
बाद में सभी कन्यायों ने परमात्मा शिव के यादगार चिन्ह शिवलिंग को वरमाला पहनाकर जीवनभर के लिए जीवन का हमसफर बना लिया। इस मौके पर बेटियों के माता- पिता ने अपनी लाडली का हाथ दादी के हाथ में सौपते हुए बोले- दादी मेरे कलेजे का टुकड़ा आज से आज से आपकी अमानत है। अपनी लाडली बिटिया को आज से विश्व कल्याण के लिए आपको सौप रहे हैं। आज मेरा जीवन धन्य हो गया जो जगत के पालनहार को अपने वर के रूप में चुना। आज मेरी बेटी ने गर्व से सिर ऊंचा कर दिया। मैंने तो स्वप्न में भी नहीं सोचा था कि मेरी लाडली आध्यात्म के मार्ग पर चलकर परिवार का नाम रोशन करेगी।

इंदौर जोन में एक हजार बहनें बनी ब्रह्माकुमारी….
इस दौरान ब्रह्माकुमारीज संस्थान के आंतरराष्ट्रीय मुख्यालय माउंट आबू से पधारे 101 बाल ब्रह्मचारी राजयोगी भाई- बहनों का पगड़ी, तिलक और माला पहनाकर स्वागत किया गया। कार्यक्रम में इंदौर जोन की जोनल निदेशका बीके कमला दीदी ने कहा कि आज का दिन कितना सुहाना है कि इतने भाई बहनों के बीच 20 बेटियां आध्यत्म की राह पर चलने का संकल्प लें रहीं हैं। आज से 50 वर्ष पूर्व इंदौर में रोपा गया ये आध्यत्म का पौधा वटवृक्ष बन गया है। ओम प्रकाश भाई ने आज इंदौर जोन में तीन हजार से अधिक ब्रह्माकुमारी बहनों को तैयार कर दिया। साथ ही एक लाख से अधिक लोग नियमित राजयोग मेडिटेशन और सत्संग कर रहें हैं।

भाई जी ने मेरा जीवन संवारा….
माउंट आबू से आए मीडिया विंग के उपाध्यक्ष बीके आत्मप्रकाश भाई ने कहा कि मैं खुद को भाग्यशाली समझता हूं कि ॐ प्रकाश भाई जी के अंग संग रहने का मौका मिला। माउंट आबू से आई वरिष्ठ राजयोग शिक्षिका बीके डॉ सविता ने कहा कि भाई जी ने ही मुझे मंच से भाषण करना सिखाया। इस मौके पर ब्रह्माकुमारीज के शांतिवन के प्रबंधक बीके भूपाल, बीके देव, बीके रुक्मिणी, नागपुर से आई बीके रजनी सहित 200 से अधिक ब्रह्माकुमारी बहनों सहित पांच हजार से अधिक लोग उपस्थित रहे।

22 Dec: Golden Jubilee Celebration by Dadi Janki ji

Golden Jubilee Celebration Dadi Janki ji

22 Dec Dadi Janki ji at Indore
5.00pm Basket ball studium
Red cross Road Indore

0731-2531531,2539539

Indore – मध्यप्रदेश के राज्यपाल महामहिम लालजी टंडन को राखी बाँधी गई

मध्यप्रदेश के नवनियुक्त राज्य्पाल  महामहिम लालजी भाई टंडन के प्रथम इंदौर आगमन पर ब्रह्माकुमारी अनीता
एवं ब्रह्माकुमारी उषा ने उन्हें राखी बांधी एवं मधुबन के प्रोग्राम का निमंत्रण भी दिया।

International Yoga Day

प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्व विद्यालय के द्वारा ( 21जून ) अन्तर्राष्ट्रीय योगदिवस के उपलक्ष्य में आज न्यु पलासिया स्थित ब्रह्माकुमार ओमप्रकाश भाईजी सभागृह ज्ञानशिखर में ” राजयोग द्वारास्वास्थ्य, समृद्धि और खुशी ” विषय पर कार्यक्रम आयोजित किया गया। जिसमें मुख्य वक्ता के रुप में इंदौर जोन के मुख्यक्षेत्रीय समन्वयक ब्रह्माकुमारी हेमलता दीदी ने कहा कि जीवन में समृद्धि और खुशी के लिए सम्पूर्ण स्वस्थ होने कीआवष्यकता है। जिस प्रकार षरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता कम हो जाने से शरीर रोग ग्रस्त हो जाता है । इसी प्रकार आजआत्मा की शक्ति कम हो जाने से आत्मा को भय, चिंता, उदासी, अनिद्रा, असुरक्षा इस तरह की अनेक ब्याधीयों ने घेर लियाहै।इसके लिए आत्मा को राजयोग द्वारा शक्तिशाली बनाना आवश्यक है आपने बताया कि राजयोग का नियमित अभ्यासमन और बुद्धि की एकाग्रता में वृद्धि करता है । इससे अंतःस्रावी ग्रंथियों से स्रावित होने वाले हार्मोन्स में संतुलन आता है।मन सशक्त बनता है तथा इन्द्रियों पर नियंत्रण होता है। कर्म श्रेष्ठ होते है तथा संस्कारों का शुद्धिकरण होता है।
इस अवसर पर इंदौर के नव निर्वाचित सांसद शंकर लालवानी ने मुख्य अतिथि के रुप में कहा कि राजयोग के अभ्यास सेभारत विष्व गुरु बन सकता है । पहले सिर्फ भारत में ही योग की महत्ता थी अब बडी खुशी की बात है कि अब सारे विष्व मेंलोगों का रुझान योग के प्रति बढ़ गया है। आपने कहा कि षारीरीक क्षमता और दक्षता के साथ साथ अंदर से भी आत्म कोसशक्त होने की जरुरत है जो राजयोग से ही संभव हैं । आयुष विभाग के संभागीय अधिकारी डाॅ. जगदीश पंचोली ने कहा कि उचित एवं संतुलित व्यायाम हमें कई बिमारियों सेमुक्त कर देता है आपने जीवन के कई व्यवहारिक चिकित्सकीय अनुभव सुनाते हुए कहा कि किस प्रकार प्राणायाम औरनूयन्तम दवाईयों के प्रयोग से रोगों से स्थायी रुप से छुटकारा मिल जाता है। आपने सुझाव दिया कि आसान-प्राणायाम ब्रह्ममूहर्त में करने से ज्यादा फलदायी होता है।शक्ति निकेतन की संचालिका ब्रह्माकुमारी करुणा दीदी ने कहा कि अंर्तजगत की यात्रा में परमात्मा से शक्ति लेकरमानवीय मूल्यों को अपनाकर मनुष्य जीवन की सर्वोच्च उँचाई को प्राप्त किया जा सकता है। आपने विशेष योग की गहनअनुभूति करायी। इस अवसर पर इंटरनेशनल नेचुरोपैथी आर्गनाईजेशन के अध्यक्ष डाॅ. अंतिम कुमार जैन एवं मार्डन योगा केअध्यक्ष एस.एस.चड्डा ने अपनी शुभकामनायें दी। षक्तिनिकेतन की कुमारीयों ने सुदर संगीतमय व्यायाम करवाया एवंदेशभक्ति गीत पर आकर्षक योगा नृत्य की प्रस्तुित दी। कार्यक्रम के शुभारंभ सभी अतिथियों ने दीप प्रज्जवलित कर किया।

Indore New Palasia : Social Wing Program


 

इंदौर : सफाई मित्रों का ब्रह्माकुमारियों ने किया सम्मान…

इंदौर 11 मार्च ! स्वच्छता हर इंसान को प्रिय लगती है, जहाँ स्वच्छता है वहाँ पवित्रता है ,प्रसन्नता है वहां ही ईश्वर का वास होता है स्वच्छता से हम अनेक बीमारियों से मुक्त होते जाते हैं स्वच्छता से सबसे ज्यादा अपना ही फायदा है।आप लोगों की दृढ़ता( एकता) कड़ी मेहनत और अनुशासन से हमारा इंदौर शहर लगातार तीसरी बार स्वच्छता अभियान में नंबर वन आया है यह हमारे शहर के लिए गौरव की बात है। उक्त विचार ज्ञानशिखर ओमशान्ति भवन न्यु पलासिया में वार्ड़ 43 के सफाई मित्रों के लिये आयोजित सम्मान समारोह में इंदौर जोन की मुख्य क्षेत्रीय समन्वयक ब्रह्माकुमारी हेमलता दीदी ने रखे। जिस प्रकार शिव शक्तियों ने ठान लिया कि सृष्टि से असुरों का संहार करना है और कर दिखाया इसी प्रकार आप सबने ठान लिया कि शहर से गंदगी को हटाकर न.1 वन बनाना है तो आप सबके अथक परिश्रम से सफलता मिली . जिस प्रकार शहर को स्वच्छ बनाया है इसी प्रकार हमारे अंदर जो ईष्र्या, द्वेष, नफरत, घृणा आदि अनेक विकारों का कचड़ा भरा है उसे साफ करने का इतना ही प्रयास करेंगे तो हमारा मन स्वच्छ होगा जीवन में खुशहाली होगी। स्वच्छ मन सहज ही ईश्वर की ओर आकर्षित होगा। कार्यक्रम का संचालन ब्रह्माकुमारी अनिता बहन ने किया। ब्रह्माकुमारी उषा बहन,आस्था बहन एवं प्रेमलता बहन ने सभी का स्वागत किया।…

83 Shivjayanti Celebration Program

महाशिवरात्रि सभी पर्वो में विशेष पर्व है क्योंकि यह स्वयं सर्वशक्तिवान एवं स्वयंभू परमात्मा शिव के इस मनुष्य सृष्टि पर अवतरित होकर मनुष्य आत्माओं को उनके पाप कर्म और दुखों से मुक्त कर पुनः इस धरती पर स्वर्ग अथवा सतयुग स्थापन करने का यादगार है । जब इस धरती पर अज्ञान की काली अंधीयारी रात छा जाती, अर्थात् सम्पूर्ण विश्व मे मानव जीवन में दुख अशान्ति और तमो प्रधानता बढ जाती ऐसी अज्ञान अंधेरी रात में परमात्मा का अवतरण होता है । इंदौर जोन के मुख्य क्षेत्रीय समन्वयक ब्रह्माकुमारी हेमलता दीदी ने ओमशान्ति भवन ज्ञानशिखर स्थित ओमप्रकाश भाईजी सभागृह में ” विष विनाशक है महाशिवरात्रि ” कार्यक्रम के अंतर्गत महाशिवरात्रि का अध्यात्मिक रहस्य बताते हुए अपने विचार रखे। वर्तमान समय गीता में वर्णित धर्मग्लानि का समय है जबकि कल्याणकारी शिव इस कलयुग की घोर रात्रि में आकर हमें आत्म,परमात्मा सृष्टि चक्र एवं कर्माे की गुह्य गति का ज्ञान देकर सतयुग रुपी दिन की स्थापना कर रहे हैं । अतः हम सभी इस महाशिवरात्रि पर्व को सच्चे आध्यात्मिक अर्थ में मनायें उन पर अक के फूल कांटे चढाने के बदले मन की बुराईयों, कमी कमजोरीयों को पहचान,

एक दूसरे के प्रति वैरभाव, दुख देने बदला लेने की भावना रुपी विषैली आदतों का त्याग करें,व्यर्थ व अशुद्ध विचारों का त्याग कर सबके प्रति शुभ व कल्याण की भावना रखने का व्रत लें, तब परमात्मा हमसे प्रसन्न होंगे।
शक्तिनिकेतन की ब्रह्माकुमारी लीला दीदी ने कामेन्ट्री के द्वारा मेडिटेशन करवाया। उन्होंने कहा कि परमात्मा एक चैतन्य शक्ति हैं वे सकारात्मक उर्जा के स्रोत हैं। उनके ध्यान करने से हमारे मन में सकारात्मक विचार और ऊर्जा आती है, जिससे हम अपने मन की बुराईयों को पहचानते हैं। अंत में सभी ने परमात्मा के नाम पत्र लिखकर अपनी बुराईयों को शिव प्रतिमा के सामने हवन कुण्ड़ में स्वाहा किया। तथा शिव ध्वजा रोहण भी किया गया। तथा ब्रह्माकुमारी जयंति दीदी ने प्रतिज्ञा कराई। 


कार्यक्रम में इंदौर विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष शंकर लालवानी, गुरु सिंघ सभा के अध्यक्ष मनजीत सिंह भाटिया, छत्री बाग आश्रम के महामण्डलेश्वर राधे-राधे बाबा तथा प्रो. कमल दीक्षित ने शुभ-कामना व्यक्त की। कार्यक्रम का कुशल संचालन प्रेमनगर सेवाकेनद्र प्रभारी ब्रह्माकुमारी शशि दीदी ने किया।
इस अवसर पर संस्था सेवा सुरभि के अध्यक्ष ओमप्रकाश नरेड़ा , समाज सेवी किशन लाल पाहवा, देवीलाल कंधारी, जैन दिवाकर कालेज की प्राचार्या संगीता भारुका, पूर्व जनसंपर्क अधिकारी आशोक मिश्रा, मनोज हार्डिया, रवि गुप्ता, सेल टेक्स के सहायक आयुक्त अभिषेक खरे, ज्वाईन डायरेक्टर डी.डी. दरवाई, डा. महेन्द्र जैन, डा. गिरीश टावरी, डा. संगीता टावरी, डा. शिल्पा देसाई आदि बड़ी संख्या में गणमान्य लोग उपस्थित हुएl

Mera Bharat Swarnim Bharat Training Program

इंदौर के ज्ञान शिखर, ओमप्रकाश भाई जी सभागृह में अहमदाबाद की कृति दीदी के द्वारा मेरा भारत स्वर्णिम भारत ट्रेनिंग प्रोग्राम का आयोजन किया गया