83 Shivjayanti Celebration Program

महाशिवरात्रि सभी पर्वो में विशेष पर्व है क्योंकि यह स्वयं सर्वशक्तिवान एवं स्वयंभू परमात्मा शिव के इस मनुष्य सृष्टि पर अवतरित होकर मनुष्य आत्माओं को उनके पाप कर्म और दुखों से मुक्त कर पुनः इस धरती पर स्वर्ग अथवा सतयुग स्थापन करने का यादगार है । जब इस धरती पर अज्ञान की काली अंधीयारी रात छा जाती, अर्थात् सम्पूर्ण विश्व मे मानव जीवन में दुख अशान्ति और तमो प्रधानता बढ जाती ऐसी अज्ञान अंधेरी रात में परमात्मा का अवतरण होता है । इंदौर जोन के मुख्य क्षेत्रीय समन्वयक ब्रह्माकुमारी हेमलता दीदी ने ओमशान्ति भवन ज्ञानशिखर स्थित ओमप्रकाश भाईजी सभागृह में ” विष विनाशक है महाशिवरात्रि ” कार्यक्रम के अंतर्गत महाशिवरात्रि का अध्यात्मिक रहस्य बताते हुए अपने विचार रखे। वर्तमान समय गीता में वर्णित धर्मग्लानि का समय है जबकि कल्याणकारी शिव इस कलयुग की घोर रात्रि में आकर हमें आत्म,परमात्मा सृष्टि चक्र एवं कर्माे की गुह्य गति का ज्ञान देकर सतयुग रुपी दिन की स्थापना कर रहे हैं । अतः हम सभी इस महाशिवरात्रि पर्व को सच्चे आध्यात्मिक अर्थ में मनायें उन पर अक के फूल कांटे चढाने के बदले मन की बुराईयों, कमी कमजोरीयों को पहचान,

एक दूसरे के प्रति वैरभाव, दुख देने बदला लेने की भावना रुपी विषैली आदतों का त्याग करें,व्यर्थ व अशुद्ध विचारों का त्याग कर सबके प्रति शुभ व कल्याण की भावना रखने का व्रत लें, तब परमात्मा हमसे प्रसन्न होंगे।
शक्तिनिकेतन की ब्रह्माकुमारी लीला दीदी ने कामेन्ट्री के द्वारा मेडिटेशन करवाया। उन्होंने कहा कि परमात्मा एक चैतन्य शक्ति हैं वे सकारात्मक उर्जा के स्रोत हैं। उनके ध्यान करने से हमारे मन में सकारात्मक विचार और ऊर्जा आती है, जिससे हम अपने मन की बुराईयों को पहचानते हैं। अंत में सभी ने परमात्मा के नाम पत्र लिखकर अपनी बुराईयों को शिव प्रतिमा के सामने हवन कुण्ड़ में स्वाहा किया। तथा शिव ध्वजा रोहण भी किया गया। तथा ब्रह्माकुमारी जयंति दीदी ने प्रतिज्ञा कराई। 


कार्यक्रम में इंदौर विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष शंकर लालवानी, गुरु सिंघ सभा के अध्यक्ष मनजीत सिंह भाटिया, छत्री बाग आश्रम के महामण्डलेश्वर राधे-राधे बाबा तथा प्रो. कमल दीक्षित ने शुभ-कामना व्यक्त की। कार्यक्रम का कुशल संचालन प्रेमनगर सेवाकेनद्र प्रभारी ब्रह्माकुमारी शशि दीदी ने किया।
इस अवसर पर संस्था सेवा सुरभि के अध्यक्ष ओमप्रकाश नरेड़ा , समाज सेवी किशन लाल पाहवा, देवीलाल कंधारी, जैन दिवाकर कालेज की प्राचार्या संगीता भारुका, पूर्व जनसंपर्क अधिकारी आशोक मिश्रा, मनोज हार्डिया, रवि गुप्ता, सेल टेक्स के सहायक आयुक्त अभिषेक खरे, ज्वाईन डायरेक्टर डी.डी. दरवाई, डा. महेन्द्र जैन, डा. गिरीश टावरी, डा. संगीता टावरी, डा. शिल्पा देसाई आदि बड़ी संख्या में गणमान्य लोग उपस्थित हुएl